कर्नाटक: केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक की पत्नी और पीए की सड़क हादसे में मौत, श्रीपद की हालत स्थिर

अपराध
India's No 1 Digital Newspaper

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाइक की कार सोमवार को उत्तर कन्नड़ जिले के अंकोला तालुक में यल्लापुरा के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। जानकारी के मुताबिक, हादसे में श्रीपद की पत्नी विजया नाइक और उनके पीए की मौत हो गई है, जबकि इलाज के बाद घायल श्रीपद की हालत स्थिर बताई जा रही है और वह सचेत हैं।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत से बात करके वहां केंद्रीय मंत्री के इलाज की बेहतर व्यवस्था करने को कहा है।
  • केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी प्रमोद सावंत से बात की है और कहा है कि अगर जरूरत पड़ती है तो श्रीपद नाइक को वायु मार्ग से दिल्ली लाने की व्यवस्था की जाए। बता दें कि प्रमोद सावंत उस अस्पताल में पहुंच गए हैं, जहां नाइक का इलाज चल रहा है।
  • कांग्रेस विधायक आरवी देशपांडे ने इसे लेकर ट्वीट किया, ‘केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक के हादसे और उनकी पत्नी के निधन की खबर सुनकर शोक में हूं। उनके परिजनों और मित्रों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य में जल्द सुधार की कामना करता हूं।’
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस पर एक ट्वीट में लिखा, ‘एक हादसे में विजया नाइक जी के निधन की खबर सुनकर बहुत दुखी हूं। केंद्रीय मंत्री श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य में जल्द सुधार की प्रार्थना करता हूं। ईश्वर उन्हें और उनके परिवार को इस बड़ी हानि से उबरने की शक्ति प्रदान करें।’

नाइक के साथ तीन लोग भी घायल
मूल रूप से गोवा के रहने वाले नाइक अपनी पत्नी विजया के साथ गोकर्ण जा रहे थे। येल्लापुर से गोकर्ण के बीच उनके ड्राइवर ने कार से कंट्रोल खो दिया। बताया जा रहा है कि हादसे के बाद श्रीपद नाइक की पत्नी विजय नाइक बेहोश थीं और उन्हें काफी देर तक होश नहीं आया. बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। हादसे में श्रीपद के पीए की भी मौत हो गई है। वहीं मंत्री श्रीपद नाइक और तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। उन्हें अस्पताल ले जाया गया है।

मंदिरों में दर्शन करके लौट रहे थे मंत्री
जानकारी के मुताबिक, श्रीपद नाइक और उनकी पत्नी सोमवार सुबह उत्तर कर्नाटक के येल्लापुर गए थे। वहां उन्होंने गणपति मंदिर, कवादिकरे मंदिर, पंडवासी ग्राम दीवी मंदिर और ईश्वरा मंदिर में दर्शन किए थे। इन मंदिरों में नाइक और उनकी पत्नी ने गणवाहन अनुष्ठान करके विशेष पूजा की थी। वापस लौटते समय यह हादसा हुआ।

उल्लेखनीय है कि श्रीपद नाइक के पास आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी के केंद्रीय राज्य मंत्री होने के साथ रक्षा राज्य मंत्री का भी जिम्मा है। विभिन्न दलों के नेताओं ने इस दर्दनाक हादसे को लेकर दुख जताया है।

..

.

. .

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *