विकल्प देने के नियम से रियल मेड्रिड, बार्सिलोना को फायदा होगा : कनौते

कोरोना वायरस खेल
India's No 1 Digital Newspaper

कोलकाता, 10 जून (आईएएनएस)। विश्व फुटबाल की नियामक संस्था फीफा द्वारा पांच विकल्प (सब्स्टीट्यूट) रखने की अनुमति दिए जाने के बाद सेविला के पूर्व स्ट्राइकर फ्रेडरिक कनौते ने कहा है कि इससे रियल मेड्रिड और एफसी बार्सिलोना जैसी टीमों को थोड़ा फायदा होगा, क्योंकि अन्य टीमों की तुलना में उनके पास शीर्ष खिलाड़ियों की बड़ी टीमें हैं।

कोरोनावायरस महामारी के कारण करीब तीन महीने तक स्थगित रहने के बाद स्पेनिश लीग ला लीगा गुरुवार से शुरू होने जा रही है। लीग के पहले मैच में सेविला का सामना रियल बेतिस होगा।

ला लीगा के ब्रांड एम्बेसेडर कनौते ने बुधवार को पत्रकारों से कहा, हमें इस बात को लेकर ईमानदार होना होगा कि बड़ी टीमें बड़ी ही होती है। इसका मतलब 16 खिलाड़ियों का होना नहीं है, लेकिन वे शीर्ष 25 खिलाड़ियों को रोटेट कर सकते हैं और इससे प्रदर्शन पर ज्यादा बदलाव नहीं आता।

उन्होंने कहा, इसलिए, यह एक फायदा है, खासकर उन टीमों में जहां काफी रोटेशन की जरूरत होती है। लेकिन जैसा कि मैंने पहले ही कहा कि मेरा हमेशा से मानना रहा है कि फुटबाल मैदान पर खेला जाता है और यह 11 बनाम 11 खिलाड़ियों के बीच होता है।

पूर्व स्ट्राइकर ने कहा, मुझे अभी भी याद है, जब 2006-07 में हम लीग में खिताब के जीत के करीब थे। लेकिन अंत में थक गए थे क्योंकि रोटेशन के लिए हमारे पास ज्यादा विकल्प उपलब्ध नहीं था। हम उसी लय को कायम नहीं रख सकते थे। वहां पर कई सारी प्रतिस्पर्धा थी। इसलिए फुटबाल में कुछ भी संभव है।

..

.

. .

.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *